BHOOL KAR BHI NA KARE YE 5 KAAM | भूल कर भी न करें ये 5 काम |

साल 2020 से एक ऐसी दुनिया शुरू हो चुकी है, जिसमें कुछ ऐसे बदलाव हुए हैं जो लम्बे वक़्त तक हमारे साथ रहेंगे। आज BHOOL KAR BHI NA KARE YE 5 KAAM जानते है सबसे ज़रूरी बातें। experts की मानें तो कुछ आदतें इस तरह से विकसित होंगी या करनी पड़ेंगी जो ज़िंदगी भर साथ चले।

पूरी दुनिया ने पिछले ३ महीनों में बहुत ज़्यादा नुकसान झेला है।  इसीलिए अब सभी को बहुत सावधानी से चलना होगा ताकि वो एक लम्बी और सेहतमंद ज़िंदगी जी सकें। पढ़िए और गाँठ बाँध लीजिए। 

1.SPITTING ON ROAD

 सार्वजनिक स्थानों पर थूकने की आदत को भूलना  पड़ेगा । ऐसा करने से बीमारियां फ़ैलती हैं।  हर सुन्दर से सुन्दर स्थान को गन्दा बनाने में थूकने की इस आदत का सबसे ज़्यादा योगदान है। गंदगी देखकर मन भी नकारात्मक महसूस करता है।

वहीं सफ़ाई से सकारात्मक ऊर्जा performance में बढ़त दिलाती है।  बहरहाल अनेक राज्यों में अब सार्वजानिक स्थानों में थूकने पर जुर्माना लगेगा। जो बातों से नहीं समझते, वो जेब से पैसा ढीला होने पर ज़रूर समझेंगे।

2. SSS – SOCIAL DISTANCING, SANITIZER, SOAP

आमतौर पर हमारे यहां हर जगह पर इतनी भीड़ भाड़ होती है कि हम SOCIAL DISTANCING का पालन ठीक से नहीं कर पाते लेकिन ये बहुत ज्यादा जरूरी है और अब इसे आदत बनाना होगा क्योंकि लॉक डाउन हटने के बाद भी कोविड-19 का खतरा कम नहीं होता।

इसलिए ये मान कर चलिए कि अब हमें एक नई जिंदगी की आदत बनाना है। कम से कम 2 साल के लिए, हम केवल जरूरी काम के लिए ही घर से बाहर निकलेंगे। कम से कम लोगों से मिलेंगे।

जिस से भी बात करेंगे दूर से बात करेंगे। किसी भी वस्तु को, किसी की भी वस्तु को अनावश्यक हाथ नहीं लगाएंगे। sanatizer का इस्तेमाल करना और साबुन से बार-बार हाथ होना हमारी आदत में शुमार हो जाना चाहिए। I am sure अब तक आदत में शुमार हो ही गया होगा।

image credit – jble.af.mil

3. STOP WASTING TIME – DEVELOP SKILLS

हम सबकी एक आदत है कि हम समय को यूं ही बर्बाद करते रहते हैं और फिर अचानक हमें याद आता है कि हम इस समय का बेहतर इस्तेमाल कर सकते थे। जैसे एक स्टूडेंट को एग्जाम  करीब आने पर याद आता है कि उसने पढ़ाई नहीं की, जबकि उसे साल भर अच्छा वक्त मिला होता है। हम सब के पास भी पूरे 1.5 से 2 साल का वक्त है जिसमें हम ज्यादा social activities नहीं करेंगे।

Outdoor activities भी नहीं करेंगे तो इस वक्त का हमें best way में utilization  करना है। अपने अंदर किसी skill  को develope  करने में। ये skill पढ़ाई से जुड़ा हो सकता है।  वो किसी तरह का art form हो  सकता है।

किसी तरह का technical skill हो सकता है और कुछ नहीं कर सकते तो कम से कम 1 से 2 साल में अपना communication skills उसके superb level पर ले जा सकते हैं। दुनिया han,hmm जैसे low level expressions से नहीं चलती। ‘han’,’hmm’ unfolds poor communication skills of a person |

एक शे’र है

इक बार सफ़र में हमराह था इक खुशमिजाज़

अंदाज़ उसके बोलने का आज भी मज़ा देता है

इस तरह नाम बताया था उसने अपना

जिस तरह कोई ख़ज़ाने का पता देता है

तो अपने spoken और writing skills को निखारिए। languages जैसे english,हिंदी,उर्दू या किसी foreign language पर लगातार काम करके आप अपनी quality और बढ़ा सकते हैं।

4. SAY NO TO PUBLIC TRANSPORT

अगले डेढ़ से 2 साल तक public transport ( conveyance ) का इस्तेमाल जितना कम कर सकते हैं, करें। सिर्फ जरूरी काम के लिए ही निकले।  रिश्तेदारों से मिलना,दोस्तों से मिलना कम से कम रखें। अगर वहन ( afford ) कर सकते हो तो private vehicle से जाएं। कल पैसे रखे रह जाएंगे, इस्तेमाल नहीं हो पाएंगे।

जान है तो जहान है। tourism के बारे में तो इस दौरान सोचिएगा ही मत। उन लोगों को बहुत दुख होता होगा जिनके पास बहुत सारा पैसा है लेकिन जिन्होंने कभी टूरिज्म नहीं किया क्योंकि वह सही वक्त का इंतजार कर रहे थे। 

लेकिन अब सही वक्त कब आएगा,यह कहना थोड़ा मुश्किल है। infact travelers और influencers टाइप के लोगों को भी, घर में ही रहकर काम करना होगा।

5. INVESTMENTS

share market में इन्वेस्ट करने वाले लोगों को अगले 2 साल बहुत सोच समझकर और बहुत ध्यान से इन्वेस्ट करना है। यह समझ लीजिए कि इस वक्त medicine की फील्ड में पहले से भी ज्यादा तेज़ी से काम हो रहा है।

इस फील्ड में ग्रोथ की अपार संभावनाएं हैं। covid 19 के लिए वैक्सीन बनाने के प्रयास हो रहे हैं। हावर्ड यूनिवर्सिटी के एक प्रोफेसर मेडिसिन में कई सालों से निवेश कर रहे हैं। Moderna shares पर उन्हें 17000 % return मिला।  5 लाख डॉलर  से शुरू की गई उनकी यात्रा एक अरब डालर पर पहुंच गई है।

यह भी पढ़ें https://neeroz.in/madhya-pradesh-lockdown-4-0/

Neeroz wishes a safe stay and a happy life of yours.

IMROZ ‘FARHAD’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *