किस कचरे में दबे हैं 275 मिलियन डॉलर ?

वेल्स के रहने वाले जेम्स हॉवेल्स ने अपने शहर न्यूपोर्ट (newport , wales ) के लोगों को करीब 70 मिलियन डॉलर ( करीब 5 अरब रूपए ) देने का ऐलान किया है। क्यूं देना चाहते हैं वो इतनी बड़ी रकम और क्या है उनकी शर्त? भई शर्त बड़ी अनोखी और दिलचस्प है। शर्त ये है कि न्यूपोर्ट सिटी कॉउंसिल कचरे में दबा खज़ाना ढूंढने में मदद करे।

क्या 275 मिलियन डॉलर का खज़ाना, वो भी कचरे में दबा है ? कैसे ? क्यूं ? किसने दबाया ? गहने की शक्ल में है या करेंसी नोट या डायमंड्स ? बताते हैं, बताते हैं, ज़रा सांस नहीं लीजियेगा क्या ?

BITCOIN | CRYPTOCURRENCY |

देखिए एक तरह की मुद्रा ( currency ) होती है cryptocurrency. यूं तो कई cryptocurrency हैं लेकिन एक है cryptocurrency की अमिताभ बच्चन, मतलब सबसे दमदार, उसका नाम है बिटकॉइन ( bitcoin ). हुआ यूं कि जब बिटकॉइन अपनी शैशव अवस्था में था मतलब पालने में झूलता लल्ला तब वेल्स में रहने वाले आई टी प्रोफेशनल जेम्स हॉवेल्स साहब ने 7500 बिटकॉइन ख़रीद लिए। कीमत कुछ खास थी नहीं और ये बिटकॉइन थे उनकी हार्ड ड्राइव में। एक दिन हार्ड ड्राइव से ज़रूरी डेटा निकाल कर उन्होने हार्ड ड्राइव कचरे के डब्बे में डाल दी।

इसके बाद ‘गाड़ी वाला आया घर से कचरा निकाल’ की धुन पर झूमते हुए सिटी कॉउंसिल की गाड़ी उस कचरे का महाकचरे में छोड़ आई।

ये सारा घटनाक्रम है तब का जब टीवी पर सारा दिन “बद्तमीज़ दिल, बद्तमीज़ दिल” गाना आता था यानि की साल 2013 की, लेकिन जेम्स ने हार्ड ड्राइव के साथ बद्तमीज़ी तो कर ही दी थी।

बिटकॉइन के बारे में विस्तार से जानें -https://neeroz.in/bitcoin-price-in-india/

BITCOIN PRICE

फ़ास्ट फॉरवर्ड ! ज़ू….   साल 2021.  बिटकॉइन ट्रेड कर रहा है 37000 डॉलर पर जिसका मतलब है 37000 गुणित 7500, मतलब 27 करोड़ 75 लाख डॉलर।

रुको ज़रा…. रूपए में तो कन्वर्ट करने दो। 20,30,19,00,000  , बोले तो 20 अरब रूपए से भी ज़्यादा। चक्कर आ गए हों तो मुँह पर पानी मार के वापिस आ जाइए।

तो बात अब ये है कि ग़लती या लापरवाही से महाकचरे में पहुंच गई हार्ड ड्राइव में 20 अरब का माल है। अब न्यूपोर्ट सिटी काउंसिल की मदद के बिना इस ड्राइव को ढूंढना असंभव है। तो अब जेम्स ने ये ऑफर दिया है कि वो न्यूपोर्ट सिटी के लोगों के लिए कुल रकम का 25 % डोनेट कर देंगे। लगभग 5 अरब रूपए।

BITCOIN HIGHEST VALUE

वो इन्वेस्टर जो इस ‘खज़ाना ढूंढो अभियान’ को फंड करेंगे उन्हे कुल रकम का 50 % दिया जाएगा, करीब 10 अरब रूपए। अंत में दरियादिल जेम्स के पास बचेंगे 5 अरब रूपए।

लेकिन कहानी यहां ख़त्म नहीं होती। जेम्स बाबू को बार-बार सिटी कॉउंसिल के दफ़्तर जाना पड़ा, जैसे रूठी हुई पत्नी को मनाने बार-बार उसके मायके जाना पड़ता है। लेकिन सिटी कॉउंसिल ने कहा इसकी इजाज़त नहीं दी जा सकती क्यूंकि इससे पर्यावरण और यहां की जनता के स्वास्थ्य पर गंभीर असर पड़ेगा।

अधिकारियों ने कहा ज़रूरी नहीं की आपकी हार्ड ड्राइव मिल ही जाए और अगर मिल भी गई तो ज़रूरी नहीं कि पुराने ऑडियो कैसेट की तरह वक़्त की मार सह के भी चल ही जाए यानि उसके चलने की भी संभावना बहुत कम होगी।

BITCOIN

TOTAL BITCOIN IN THE WORLD

बाहुबलियों ( मतलब विशेषज्ञों ) की माने तो इस वक़्त दुनिया में करीब 1. 8 करोड़ बिटकॉइन हैं जिनकी कीमत 140 अरब डॉलर ( कितने रूपए होंगे कमेंट में बताइए, करोड़ों की बात बता रहे हैं थोड़ी मेहनत तो आपसे भी कराएंगे ? )

TOTAL BITCOIN VALUE

उधर जेम्स चाचा भी हार मानने को तैयार नहीं हैं और कह रहे हैं कि उनके पास ड्राइव खोजने के लिए एक योजना है जिसमें वो एक क्षेत्र विशेष में खुदाई मचा देंगे लेकिन पर्यावरण का ध्यान रखते हुए।

बहरहाल ये सब सुनके हम तो यही कहेंगे “ऐसा भी होता है ?”

नोट – ये ब्लॉग व्यंग्यात्मक शैली में लिखा गया है लेकिन घटना,स्थान,व्यक्ति सत्य और फैक्ट्स यथासंभव वास्तविक रखे गए हैं।

DISCLAIMER : इस ब्लॉग का उद्देश्य केवल सामान्य जानकारी देना है | हम किसी भी प्रकार से CRYPTOCURRENCY के लिए किसी को भी प्रोत्साहित नहीं करते | इससे संबंधित किसी वेबसाइट या प्रोवाइडर का प्रचार हम नही करते |

IMROZ FARHAD

6 thoughts on “किस कचरे में दबे हैं 275 मिलियन डॉलर ?

  1. Hamne padhna band kar diya tha. Aaj padhe to pata chala galat kiya tha.
    vese yadi bitcoin trending suru ho gai to aapko jankar khushi hogi ki apne mandla ke ik saks ne 2bitcoin khareede the.. tab jab uski keemat yahi kuch 3 ya 4 hajaar rahi hogi. Ab aap to samjhdaar hain. aaj 2 bitcoin ki keemat 22 laakh hai. kismat kese badalti hai ye iska bahoot hi shaandaar namoona hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *